चुनाव में सुधार

चुनाव में सुधार

134
0
SHARE

याचिका पर सुनवाई 
नई दिल्ली : उच्चतम न्यायालय के मुख्य न्ययाधीश दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली खंडपीठ ने, कांग्रेस के नेता प्रकाश जोशी की याचिका गुजरात विधानसभा चुनाव में ईवीएम मशीनों के साथ वोटर वेरिफायड पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपैट) के साथ चुनाव कराने तथा वीवीपैट की सीसीटीवी कैमरे से रिकोडिंग करने का निर्वाचन आयोग को दिशा निर्देश वाली याचिका को ३० अक्टूबर की सुनवाई की तारीख दिया गया है. शीर्ष अदालत ने इस मामले में अटर्नी जनरल के के वेणुगोपाल से सहयोग करने को कहा है. याचिका में कहा है कि गुजरात चुनाव में किसी भी वैसे अधिकारी को न लगाया जाये जिसके खिलाफ कोई मामला लंबित हो. याचिका में ये भी अनुरोध किया गया है कि वीवीपैट का सीसीटीवी कैमरे से रिकाडिंग की जाये और रिकाडिंग को १२० दिनों तक सुरक्षित रखा जाये. क्युकि चुनाव आयोग गुजरात विधानसभा की चुनाव की तिथियों की जल्द ही घोषणा करने वाला है.
चुनाव में सुधार जनता की मांग 
ईवीएम मशीन एक उच्च तकनिक से लैस मशीन है, इसके गुणवत्ता को जांचने के लिये कुछ महीने पहले संसद में खुला चैलेंज दिया गया था की कोई भी आदमी इसे हैक करके या अपने मन मुताबिक रिजल्ट प्राप्त करके दिखाए, इसमें ईवीएम सफल रहा कोई भी उसे मन मुताबिक रिजल्ट नहीं ले सके. इस प्रकार ईवीएम सही है अब बात ये है की वोटर सही हो, फर्जी नहीं हो और एक आदमी एक वार ही मतदान का प्रयोग कर सके इसके लिये सही मैनेजमेंट और वोटर वेरिफायड होना जरुरी है. कई बार देखा गया है की स्थानीय प्रशासन और कुछ अधिकारी मतदान के समय मत को प्रभावित करते है, कभी कभी दूर दराज के इलाके में कुछ स्थानीय दवंग लोगो के कारण मतदान और चुनाव को प्रभावित किया जाता है. मतदान के समय सभी जगहों का वीडियो रिकोडिंग जरुरी है ताकि भारत जैसे बड़े देश में लोकतंत्र अनमोल रहे. चुनाव में जितने भी दागी अधिकारी है उनको न लगाया जाये. अधिकारी की सुरक्षा का पूरा व्यवस्था कराया जाये, क्युकि जब तक कोई निर्भय नहीं होता है तब तक अपना सबसे अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सकता है. चुनाव  सुधार में टीएन सेशन जैसे अधिकारी प्रमुख है. अभी भी देश में कितने अच्छे अधिकारी है उनको मौका दिया जाना चाहिय क्युकि अच्छे लोगो और कामो की हमेशा प्रशंसा और अधिकार दिया जाता है, क्युकि काम सभी जनता के लिये होता है.
जब हम ऊपर स्तर से लेकर नीचे स्तर तक अच्छा सुधार करते है तो निसंदेह जनता में एक अच्छा मैसेज जाता है और सभी जगह व्यापक सुधार होता है अच्छे विचार वाले नेता चुनकर आते है, जिनकी अभी देश में बहुत कमी है. एक से एक घोटाला, भ्रष्टाचार और दवंगई के कारण देश की अधिकांश जनता परेशान है और देश भी कमज़ोर होता है. इसलिये चुनाव में व्यापक सुधार बहुत जरुरी है.

LEAVE A REPLY